गिनी पिग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

गिनी पिग
Guinea pig
Two adult Guinea Pigs (Cavia porcellus).jpg
दो गिनी पिग
वैज्ञानिक वर्गीकरण
Kingdom: जंतु
संघ: रज्जुकी (Chordata)
वर्ग: स्तनधारी (Mammalia)
गण: कृंतक (Rodentia)
कुल: केवीडे (Caviidae)
उपकुल: केवीने (Caviinae)
वंश: केविआ (Cavia)
कार्ल लीनियस, 1758

गिनी पिग या गिनी सूअर (वैज्ञानिक नाम: केविआ पोर्सेलस), कृतंक परिवार की प्रजाति है। अन्य नाम केवी है जो इसके वैज्ञानिक नाम से आया है।[1] इनके आम नाम के बावजूद, ये जानवर सुअर परिवार से नहीं हैं, न ही ये अफ्रीका में गिनी से आते हैं। वे दक्षिण अमेरिका के एंडीज़ में उत्पन्न हुए।

नाम

इन जानवरों को "पिग" यानी सूअर कैसे कहा जाने लगा स्पष्ट नहीं है। वे सूअरों की तरह कुछ हद तक बने हुए हैं, उनके शरीर के सापेक्ष सिर बड़ा, मोटी गर्दन और गोलाकार पिछला हिस्सा बिना किसी के पूँछ के होता है।[2] नाम में "गिनी" की उत्पत्ति को समझाना मुश्किल है। एक प्रस्तावित स्पष्टीकरण यह है कि जानवरों को गिनी के माध्यम से यूरोप लाया गया था, जिससे लोगों को लगता था कि वे वहाँ पैदा हुए थे। आम तौर पर किसी भी दूर, अज्ञात देश को संदर्भित करने के लिए अंग्रेजी में "गिनी" का भी प्रयोग किया जाता था, इसलिए नाम जानवर की विदेशी अपील के लिए रंगीन संदर्भ हो सकता है।[3] एक अन्य परिकल्पना सुझाव देती है कि नाम में "गिनी" दक्षिण अमेरिका के एक क्षेत्र "गयाना" का भ्रष्ट रूप है।[4]

प्राकृतिक वास

जैवरसायन और संकरण के आधार पर अध्ययनों से पता चलता है कि वे पालतू प्रजाति हैं और इसलिए जंगलों में प्राकृतिक रूप से मौजूद नहीं हैं। गिनी पिग कई आदिवासी समूहों की लोक संस्कृति में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। लोक चिकित्सा और धार्मिक सामुदायिक समारोहों के अलावा विशेष रूप से उसे खाद्य स्रोत के रूप में प्रयोग किया जाता है।

पश्चिमी समाजों में, 16वीं शताब्दी में यूरोपीय व्यापारियों द्वारा इसके परिचय के बाद से गिनी पिग ने घरेलू पालतू पशु के रूप में व्यापक लोकप्रियता प्राप्त की है। 17वीं शताब्दी से लेकर गिनी पिग पर जैविक प्रयोग किये गए हैं। इन पर अक्सर 19वीं और 20वीं शताब्दी में जैविक घटनाओं को समझने के लिये प्रयोग किये जाते थे। लेकिन अब चूहों और मूषक जैसे अन्य कृन्तकों ने इनकी जगह बड़े पैमाने पर ले ली है।

विशेषता और परिवेश

गिनी पिग पर रोंयेदार मुलायम बाल होते हैं। इनके बाल कई रंग के हो सकते हैं लेकिन सामान्यतः भूरे, सफेद या काले रंग के होते हैं। इन रंग के मध्य किसी दूसरे रंग के निशान भी होते हैं।[1] गिनी पिग कृंतक के हिसाब से बड़े होते हैं। वजन 700 और 1,200 ग्राम के बीच होता है, और लंबाई में 20 से 25 सेमी (8 और 10 इंच) के बीच होती हैं।[1] वे औसतन चार से पाँच साल तक जीवित रहते हैं, लेकिन वे आठ वर्ष के लंबे समय तक भी जीवित रह सकते हैं। 2006 के गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के अनुसार, सबसे लंबे समय तक जीवित रहने वाला गिनी पिग 14 साल, 10.5 महीने जीवित रहा।[5] गिनी पिग जंगल में प्राकृतिक रूप से नहीं मिलते; यह संभवतः निकट से संबंधित प्रजातियों से उत्पन्न हुए हैं। घरेलू गिनी सूअर आम तौर पर पिंजरे में रहते हैं, हालाँकि बड़ी संख्या में गिनी सूअरों के कुछ मालिक अपने पूरे कमरे को उन्हें समर्पित करते हैं।

व्यवहार

गिनी पिग की दृष्टि दूरी और रंग के मामले में एक इंसान की तरह अच्छी नहीं है, लेकिन उनके पास दृष्टि का एक बड़ा कोण (लगभग 340 डिग्री) है। उनकी सुनने, सूँघने और स्पर्श की इंद्रियां अच्छी तरह से विकसित हैं। नर 3-5 सप्ताह में यौन परिपक्वता तक पहुँचते हैं, जबकि मादा 4 सप्ताह की उम्र में प्रजननक्षम हो सकती हैं और वयस्क होने से पहले बच्चे पैदा कर सकती हैं। मादा गिनी पिग साल भर प्रजनन करने में सक्षम है। एक बार में 3 से 4 बच्चें जन्म लेते हैं। अधिकांश कृन्तकों की संतान के विपरीत जो जन्म के समय पूर्ण विकसित नहीं होते हैं, नवजात गिनी शिशु के बाल, दाँत, पंजे और आंशिक दृष्टि अच्छी तरह से विकसित होते हैं।

गिनी सूअर का प्राकृतिक आहार घास है; उनके दाढ़ पौधे को पीसने के लिए विशेष रूप से उपयुक्त होते हैं और अपने पूरे जीवन में लगातार बढ़ते रहते हैं। अगर शुरुआती जीवन में सही ढंग से संभाला जाता है, तो गिनी सूअर उठाए जाने और ले जाने के लिए आदि हो जाते हैं और शायद ही कभी काटते या खरोंचते हैं। वे कायर किस्म के हैं और भले ही मौका हो अक्सर अपने पिंजरे से भागने का प्रयास करने में संकोच करते हैं। वो दो या उससे ज्यादा के समूह में फलते–फूलते हैं। स्विट्ज़रलैंड में, केवल एक गिनी पिग को रखना उसके कल्याण के लिए हानिकारक माना जाता है और कानून द्वारा वर्जित है।[6]

सन्दर्भ

  1. "‘गिनी पिग’ छोटा और सुन्दर भी". हिन्दुस्तान लाइव. 26 अगस्त 2010. https://www.livehindustan.com/news//article1-story-134298.html. अभिगमन तिथि: 23 अगस्त 2018. 
  2. "एक छोटा और खूबसूरत स्तनपायी जीव है ‘गिनी पिग". प्रभा साक्षी. 30 मार्च 2016. https://www.prabhasakshi.com/infoofchild/a-small-and-beautiful-mammal-is-guinea-pig. अभिगमन तिथि: 24 अगस्त 2018. 
  3.  Cavy”ब्रिटैनिका विश्वकोष (11th)। (1911)। कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस।
  4. "Results for "Guinea pig"" (अंग्रेज़ी में). Dictionary.com. http://dictionary.reference.com/browse/Guinea%20pig. अभिगमन तिथि: 23 अगस्त 2018. 
  5. Glenday, Craig, सं (2006) (अंग्रेज़ी में). Guinness Book of World Records. Guinness World Records Ltd.. प॰ 60. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 1-904994-02-4. 
  6. Maurisse, Marie (17 August 2011). "En Suisse, les animaux domestiques doivent obligatoirement être en couple [स्विट्ज़रलैंड में, पालतू जानवर जोड़े में होना चाहिए]" (फ्रांसिसी में). http://blog.lefigaro.fr/suisse/2011/08/en-suisse-les-animaux-domestiques-doivent-etre-en-couple.html.